Hindi Dosti Shayari

Dosti muze kisise na thi kisise muze pyar n tha,
Jab bure waqt me dekha toh koi yar na tha

दोस्ती मुझे किसीसे न थी किसीसे मुझे प्यार न था
जब बुरे वक़्त में देखा तो कोई यार न था

hindi-shayari-dosti-friend

Sath agar doge to muskurayenge jaroor,
Pyar agar dil se karoge toh nibhayenge jaroor,
Kitane bhi kate kyo na ho disti ke rahon me,
Awaj agar dil se doge toh aayenge jaroor…

साथ अगर दोगे तो मुस्कुरायेंगे जरूर ।
प्यार अगर दिल से करोगे तो निभायेंगे जरूर ।
कितने भी कटे क्यों न हो दोस्ती की रहो में ।
आवाज अगर दिल से दोगे तो आएंगे जरूर ।

hindi-shayari-dosti-friend

Yek raat rab ne mere dil se pucha, Tu dosti mai me iitana kyo khoya hai?
Dil bola dosto ne hi di hai saari khushiya
varana pyar karake to dil hamesha roya hai..

एक रात रब ने मेरे दिल से पूछा, तू दोस्ती में इतना क्यों खोया है?
दिल बोला दोस्तों ने ही दी है सारी खुशियां
वरना प्यार करके तो दिल हमेशा रोया है।

hindi-shayari-dosti-friend

Chand lamaho ki zindagi hai, Nafarato se jiya nahi karate.
Dushmano se abb gujarish karni padegi,
Dost to abb yad kiya nahi karte.

चंद लमहों की ज़िन्दगी है, नफरतों से जिया नहीं करते।
दुश्मनों से गुजारिश करनी पड़ेगी,
दोस्त तो अब याद किया नहीं करते।

hindi-shayari-dosti-friend

Duniyadari mai hum thode kacche hai,
Par disto ke mamle mai hum sacche hai,
Humari sacchai bas iisi bar par kayam hai,
Ki humare dost humse bhi aache hai..

दुनियादारी में हम थोड़े कच्चे हैं,
पर दोस्ती के मामले में सच्चे हैं,
हमारी सच्चाई बस इस बात पर कायम है,
की हमारे दोस हमसे भी अच्छे हैं।

hindi-shayari-dosti-friend

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *